Article

Electrical Panel Wiring कैसे करे तथा पैनल की वायरिंग करते समय किन - किन बातों का ध्यान रखा जाना चाहिए ?

Electrical Panel Wiring
Electrical Panel Wiring

जब किसी भी प्रकार की मशीन का कण्ट्रोल पैनल तैयार किया जाए तो हमे उस पैनल में लगने वाले सभी कम्पोनेंट तथा वायरिंग को व्यवस्थित एवं सही क्रम में लगाना चाहिए | यदि हम ऐसा नही करते हे तो ना केवल पैनल एवं मशीन को खतरा हे बल्कि इससे हमारे साथ भी कोई दुर्घटना घटित हो सकती है | यदि आप नही जानते की एक Electrical Panel Wiring कैसे करते है , कम्पोनेंट्स को सही क्रम में कैसे लगाया जाता है तथा वायरिंग करते समय किन - किन बातों का ध्यान रखना चाहिए तो यह आर्टिकल आपके लिए ही हे | आइये जानकारी लेते है 
Electrical Panel Wiring के बारे में |



Electrical Panel Wiring क्या है 

किसी भी मशीन को इलेक्ट्रिकल सप्लाई से जोड़ने से पूर्ण सप्लाई तथा मशीन के मध्य उपयोग किये जाने वाले कंट्रोलिंग , सेफ्टी , मापक जैसी युक्तियों का किसी एक जगह पर व्यवस्थित कनेक्शन करना Electrical Panel Wiring कहलाता है |


Electrical Panel Wiring कैसे करे 

किसी भी प्रकार के कण्ट्रोल पैनल की वायरिंग करते समय हमे निम्नलिखित क्रम को अपनाना चाहिए जिससे पैनल , मशीन एवं हमारी सभी की सुरक्षा हो सके व लम्बे समय तथा व्यवस्थित तरीके से कार्य पूर्ण हो सके -

👉 कण्ट्रोल में आने वाली इनकमिंग सप्लाई को सबसे पहले एक कनेक्शन प्लेट में दिया जाना चाहिए तथा कनेक्शन टाइट कसना चाहिए |


👉 कनेक्शन प्लेट से सप्लाई की किसी कंट्रोलिंग डिवाइस जैसे ICDP , ICTP , DPDT आदि स्विच से जोड़ना चाहिए जिससे पुरे पैनल की सप्लाई को नियंत्रित किया जा सके |

👉 कंट्रोलिंग डिवाइस से सप्लाई को सीधा सेफ्टी डिवाइस से जोड़ना चाहिए जैसे MCB , Fuse आदि ताकि पैनल में किसी भी प्रकार की खराबी होने पर वायरिंग जले नही |

👉 सेफ्टी डिवाइस से सप्लाई को सूचक युक्तियो पर जोड़ना चाहिए जैसे indicating lamp , फ्लिपिंग लाइट आदि  ताकि यह पता चल सके की पैनल में सप्लाई मौजूद है या नही |

👉 सूचक युक्तियों से सप्लाई मेजरिंग डिवाइस पर जोड़ना चाहिए जैसे voltmeter , ameter , frequency meter आदि ताकि पैनल में सही मान की सप्लाई प्रवाहित हो जिससे मशीन को ख़राब एवं जलने से बचाया जा सकता है |

👉 मापक युक्तियों से सप्लाई को प्रचालन युक्तियों पर दिया जाना चाहिए जैसे DOL Starter , Star Delta Starter , Two point , three point starter आदि | ताकि मशीन को सुरक्षित एवं सही तरह से स्टार्ट किया जा सके |

👉 प्रचालन युक्तियों से सप्लाई आउटगोइंग कनेक्शन प्लेट पर जोड़ी जाती है जिससे मशीन के तारों को टाइट कसा जा सके |



Electrical Panel Wiring करते समय किन - किन बातों का ध्यान रखा जाना चाहिए 

इलेक्ट्रिकल पैनल की वायरिंग करते समय हमे निम्न बातों का ध्यान रखना चाहिए -

  • किसी भी कम्पोनेंट्स पर कनेक्शन ढीले नही होना चाहिए क्यूंकि इससे स्पार्किंग होती है और मशीन को प्रॉपर सप्लाई नही मिल पाती है |
  • पैनल , मशीन तथा किसी भी धात्विक कम्पोनेंट्स की बॉडी को हमेशा अर्थ वायर से कनेक्ट करना चाहिए ताकि कभी किसी भी प्रकार के लीकेज करंट से हमे विद्युत झटका ना लगे और दुर्घटना से बचा जा सके |
  • पैनल में उपयोग किये जाने वाले सभी कम्पोनेंट्स को पैनल में लगाने से पूर्व मल्टीमीटर या सीरीज टेस्टिंग बोर्ड से चेक करने के बाद ही पैनल में लगाया जाना चाहिए |
  • पैनल को सप्लाई से जोड़ने से पूर्व  यह सुनिश्चित कर लेवे की सभी मीटर की सुई जीरो पर सेट हे |
  • कभी भी MCB को कंट्रोलिंग के रूप में उपयोग नही करना चाहिए अन्यथा पैनल में कोई शोर्ट सर्किट होने पर स्टार्ट करते ही पैनल जल जायेगा क्युकी MCB की नॉब आपने अपने हाथों से पकड रखी हे तो वह ट्रिप नही होगी |
  • पैनल में कोई भी parts ढीला ना हो खास कर कंट्रोलिंग डिवाइस क्युकी किसी भी प्रकार की दुर्घटना घटित होने पर हम मशीन को सही समय पर बंद कर सके |
  • कभी भी गिले हाथों से किसी कण्ट्रोल पर वर्क ना करे इससे विद्युत झटका लगने का खतरा हो सकता है |


यह भी पढ़िए -


तो फ्रेंड्स यह थी Electrical Panel Wiring के बारे में कुछ सामान्य जानकारी | यदि यह जानकारी आपको पसंद आती हे तो कृपया अपने साथियों के साथ भी जरुर शेयर करे | और इसी प्रकार के आर्टिकल अपने whatsapp और फेसबुक पर पाने के लिए निचे दिए whatsapp एवं फेसबुक बटन पर क्लिक कर हमारे group ज्वाइन करे |


No comments:

Post a Comment