Article

केबल क्या है ? केबल के प्रकार

cable kya hai ,cable ke prakar
cable ke prakar

किसी भी जगह पर मुख्य वैद्युतिक सप्लाई को एक जगह से दूसरी जगह तक पहुंचाने के लिए केबल का उपयोग किया जाता है | इस आर्टिकल में हम आपको बताएं है की केबल क्या होता है तथा केबल के प्रकार क्या है | केबल के प्रकार के बारे में जानकारी के लिए इस आर्टिकल को पूरा पढ़े |


केबल क्या है  

केबल एक ऐसा साधन होता है जिसमे एक या एक से अधिक तार आपस में ऐंठे होते है तथा जिसमे कई कोर वाला अचालक आवरण होता है केबल कहलाता है | या कहे 'दो या दो से अधिक अचालक युक्त तारों को किसी दुसरे अचालक आवरण में व्यवस्थित जमा देना केबल कहलाता है |

केबल का चयन कैसे करे 

इलेक्ट्रिसिटी के कामों में उपयोग आने वाली केबल में हम अक्सर केबल की करंट प्रवाहित करने की क्षमता और केबल के तारों की मोटाई को ही देखते है लेकिन किसी का केबल का चयन करते समय हमे निम्न बातों पर भी ध्यान देना चाहिए जिससे उच्च गुणवता और उच्च लाइफ वाली केबल हम चयन कर सके |

1. चालक के धातु का प्रकार - केबल के अन्दर उपयोग किया गया तार किस धातु का बना है इसके अनुसार भी हमे केबल का चयन करना चाहिए | अधिकतर केबल दो धातु के तार की बनायीं जाती है जिसमे एक धातु कॉपर यानि की तांबा होती है तथा दूसरी धातु एल्युमिनियम होती है | बजट के अनुसार आप इनका चयन कर सकते है यदि आपके पास अच्छा बजट है और आप चाहते की कोई अच्छी सी केबल खरीदी जाये तो आपको कॉपर केबल का चयन करना चाहिए |

2. अचालक के अनुसार - किसी भी केबल का चयन करते समय केबल के अचालक आवरण के पदार्थ की भी जाँच करनी चाहिए की वह किस पदार्थ से बना है तथा उसका अचालक आवरण तार की ऊष्मा को वायुमंडल में रिलीज करता है या नही |जैसे - PVC , VIR, CTM ,वैदर प्रूफ तथा फ्लेक्सिबल आदि |

3. कोर की संख्या के अनुसार - आपके सर्किट में कितने फेज है उसके अनुसार केबल का चयन करे यदि आप सिगल फेज के लिए केबल का चयन करे तो उसमे 2 कोर होते है वहीं थ्री फेज सप्लाई के लिए 3 कोर तथा 4 कोर केबल आती है | यदि आपके पास थ्री फेज सप्लाई है और उसमे 3 फेज और एक न्यूट्रल है तो आपको 4 कोर केबल का उपयोग करना चाहिए |

वोल्टेज ग्रेड के अनुसार केबल का वर्गीकरण -

उपयोग की जाने वाली वोल्टेज मान के अनुसार केबल को मुख्य रूप से चार प्रकार में बनाया जाता है

  • लो वोल्टेज केबल 
  • मीडियम वोल्टेज केबल 
  • हाई वोल्टेज केबल 
  • एक्स्ट्रा हाई वोल्टेज केबल 


1. लो वोल्टेज केबल - 'लाइट एंड फेन सर्किट' तथा पॉवर सर्किट के लिए बनायीं गयी केबल लो वोल्टेज केबल कहलाती है | सप्लाई में लो वोल्टेज का मान 250 वोल्ट निर्धारित किया गया है इसलिए 250 वोल्ट तक की केबल लो वोल्टेज केबल कहलाती है |

2.  मीडियम वोल्टेज केबल - यह केबल पॉवर लोड के लिए बनायीं जाती है | तथा इसकी वोल्टेज क्षमता 650 वोल्ट तक होती है | इसका उपयोग घरेलु एवं औद्योगिक कार्यों में पॉवर लोड तथा सप्लाई जोड़ने के लिए किया जाता है |

3. हाई वोल्टेज केबल - डिस्ट्रीब्यूशन लाइन में उपयोग की जाने वाली केबल उच्च वोल्टेज केबल होती है | इस केबल की वोल्टेज क्षमता 22000 वोल्ट होती है |

4. एक्स्ट्रा हाई वोल्टेज केबल - यह केबल अति उच्च सप्लाई के लिए उपयोग किये जाते है | इनकी वोल्टेज क्षमता 22000 वोल्ट से अधिक होती है | इस केबल का उपयोग ट्रांसमिशन तथा डिस्ट्रीब्यूशन लाइनों में किया जाता है |

केबल के प्रकार | Types of Cables in Hindi

इंसुलेशन आवरण के अनुसार केबल के 8 प्रकार होते है |

  • वी आई आर केबल 
  • सी टी एस केबल 
  • पी वी सी केबल 
  • लेड शिथ्ड केबल 
  • वैदर प्रूफ केबल 
  • ट्रोपोड्योर केबल 
  • फ्लेक्सिबल केबल 
  • आरमर्ड केबल 
[ यह भी पढ़िए ]



तो इस आर्टिकल में आपने पढ़ा केबल क्या है और  केबल कितने प्रकार के होते है | यदि यह आर्टिकल आपको पसंद आता है तो कृपया अपने साथियों के साथ शेयर जरुर शेयर करे | और हमारे नये अपडेट की जानकारी के लिए हमे सोशल मिडिया पर फॉलो करे |

1 comment:

  1. बिजली विभाग में इस्तेमाल होने वाले केवल का नाम बता दो और फोटो भी साथ में

    ReplyDelete