Article

प्लेट अर्थिंग क्या है और कैसे करें | Plate Earthing In Hindi

प्लेट अर्थिंग ( Plate Earthing in Hindi ) -  यह बात तो आप हमारे पिछले आर्टिकल में जान चुके है की Earthing क्या है और Earthing हमारे और मशीन / उपकरण के लिए क्यों आवश्यक है | साथ ही हम आपको Earthing के प्रकार के बारे में भी बताये है |Earthing के इन्हें प्रकार में से एक प्रकार है Plate Earthing | यदि आप जानना चाहते है की प्लेट अर्थिंग क्या है ( Plate Earthing in hindi ) तो यह आर्टिकल आपके लिए महत्वपूर्ण हो सकता है | 

नमस्कार 🙏 और स्वागत है आपका एस.के.आर्टिकल डॉट कॉम में ....

plate earthing in hindi


प्लेट अर्थिंग क्या है - What is Plate Earthing in Hindi


Plate Earthing अर्थिंग का एक प्रकार होता है | जिसमें मुख्य इलेक्ट्रोड के रूप में कॉपर / GI से बनी एक Earthing Plate का उपयोग किया जाता है | इस Plate को पृथ्वी ( Earth ) के अन्दर गहराई में एक विधि के अनुसार स्थापित करते है | इस प्रकार प्लेट के उपयोग से हमें जो अर्थिंग प्राप्त होती है उसे ही प्लेट अर्थिंग के नाम से जाना जाता है | 

अधिकतर इस प्रकार की Earthing ऐसे स्थान पर ज्यादा उपयोग की जाती है जहाँ पृथ्वी के भीतर नमी की मात्रा कुछ अधिक हो और ज्यादा मात्रा की मशीन / उपकरण को अर्थिंग करने की आवश्यकता होती है | इस प्रकार की Earthing से पावरफुल अर्थिंग प्राप्त की जा सकती है | 


प्लेट अर्थिंग के लिए किन किन सामग्री की आवश्यकता होती है 


Plate Earthing के लिए कुछ सामग्री की आवश्यकता होती है जिसकी सूचि इस प्रकार है -

  1. अर्थिंग प्लेट - 60 सेमी x 60 सेमी ( लम्बाई x चौडाई ) और 3.15 मिमी. मोटाई 
  2. अर्थिंग वायर - 8 SWG ( GI Wire )
  3. अर्थिंग पाइप - 12.7 मिमी. व्यास गैल्वेनाइज्ड आयरन ( GI )
  4. GI वाटर पाइप - 19.5 मिमी.व्यास जिसकी लम्बाई 1.2 मीटर हो 
  5. फनल - तार की जाली के फ़िल्टर सहित 
  6. ढक्कन - 30 सेमी. x 30 सेमी. ( कास्ट आयरन ) 
  7. नमक - डलेदार नमक 
  8. चारकोल - कच्चा कोयला चूर्ण वाला 
  9. नट एवं बोल्ट - 50 मिमी. x 8 मिमी. ( कॉपर ) 


नोट :- उपरोक्त सभी सामग्री निश्चित बताये हुए माप के अनुसार करे | यह सभी सामग्री केवल तब प्रयोग करे जब कॉपर प्लेट का उपयोग किया जा रहा हो यदि कॉपर के स्थान पर जी.आई. धातु की प्लेट का उपयोग कर रहे है तो उपयोग की जाने वाली सामग्री के विवरण ( साइज़ ) में अंतर होता है जी.आई के लिए आपको निचे बातये गये साइज़ का उपयोग करना चाहिए |


  1. अर्थिंग प्लेट - 60 सेमी * 60 सेमी ( लम्बाई * चौडाई ) तथा मोटाई 6.30 मिमी 
  2. नट एवं बोल्ट - 50 मिमी * 8 मिमी ( GI )

अन्य सभी सामग्री निश्चित मात्रा तथा माप वाली ऊपर बताये अनुसार ही उपयोग कर सकते है क्यूंकि इसके माप में ज्यादा अंतर नही आता है | 




प्लेट अर्थिंग कैसे करें 

प्लेट अर्थिंग के लिए सभी सामग्री एकत्रित करने के बाद प्लेट अर्थिंग करने की विधि के अनुसार अर्थिंग करना चाहिए | प्लेट अर्थिंग करने की विधि निम्नानुसार है -


plate earthing diagram
plate earthing diagram

अर्थिंग करने के लिए सर्वप्रथम एक 90 * 90 सेमी लम्बाई - चौडाई वाला एक गड्डा खोदा जाता है जिसकी गहराई  1.5 मीटर से 3 मीटर तक होनी चाहिए | यह गड्डा नमी प्राप्त होने तक खोदे लेकिन यदि 3 मीटर से अधिक गहराई के बाद भी नमी प्राप्त न हो तो गड्डे की जगह बदलना चाहिए अन्यथा अर्थिंग को नमी बनाए रखने के लिए बाहरी जल की आवश्यकता अधिक होगी | और यदि नमी कम रहती है तो अर्थिंग के कमजोर होने की संभावना बड जाती है | 

गड्डा खोदने के बाद अर्थिंग प्लेट के साथ GI वायर को नट और बोल्ट की सहायता से अर्थिंग प्लेट में टाइट कस दे | और इस GI को 12.7 mm व्यास वाले पाइप के अन्दर से गुजारे | 

गड्डे के अन्दर प्लेट को उध्वार्धर स्थिति में रखे और इस प्लेट के चारों और 15 सेमी. मोटाई में चारकोल और नमक की पर्तें बिछाएं | पहले चारकोल फिर नमक फिर चारकोल फिर नमक इस क्रम में पर्तें बिछातें रहे | 

कुछ पर्तें बिछाने के बाद 19.5 mm व्यास वाले जल पाइप को इन पतों के साथ रखे और बचे हुए कुछ चारकोल और नमक को गड्डे से निकाली हुयी मिटटी के साथ अच्छे से मिक्स कर ले और इस मिटटी से गड्डे को पूरी तरह भर दे | 

गड्डे से निकले हुए जल पाइप के साथ ऊपर एक फनल लगा दे | और गड्डे के ऊपर इस फनल के चारों और 30 * 30 सेमी कंक्रीट का बॉक्स उसमें कास्ट आयरन से बना कब्जे युक्त ढक्कन लगा दे | 

कंक्रीट बॉक्स सुख जाने के बाद फनल की सहायता से अर्थिंग में पानी डाले और अर्थिंग से निकला हुआ GI वायर आपका अर्थ वायर होगा इसे आप अर्थिंग के लिए उपयोग कर सकते है | 




अर्थिंग सही से काम कर रही है या नही कैसे चेक करे 

आपके द्वारा की गयी अर्थिंग पावरफुल है या नही सही से काम कर रही है या नही इसे चेक करना आवश्यक है अन्यथा आप इस यह सोचकर अब फी हो जायेंगे की हमने तो अर्थिंग कर ली है हमारी किसी भी मशीन से हमें कोई खतरा नही होगा , हमारे सारे उपकरण मशीन सुरक्षित है और बाद में पता चलता है की आपके द्वारा बनायीं गयी अर्थिंग का तो अर्थिंग प्रतिरोध ही बहुत अधिक है और वह सही तरीके से कार्य ही नही कर रही है | 

इस समस्या से बचाव के लिए आपको अर्थ टेस्टर की सहायता से अर्थिंग को चेक करना चाहिए | यदि आपको अर्थिंग चेक करना नही आता है तो आप हमारा आर्टिकल पढ़े जिसमें हमने आपको बताया है की अर्थ टेस्टर से अर्थिंग कैसे चेक की जाती है | 


यह भी पढ़ें - 



Conclusion :- 
तो इस आर्टिकल " प्लेट अर्थिंग क्या है और कैसे करें | Plate Parthing In Hindi"   में आपने सिखा की कैसे हम प्लेट अर्थिंग कर सकते है | उम्मीद करते है आपको यह जानकारी पसंद आई होगी | यदि प्लेट अर्थिंग से जुड़ा आपका कोई अन्य सवाल या सुझाव है तो कृपया हमे निचे कमेंट बॉक्स में कमेंट जरुर करे | और इस आर्टिकल को अपने साथियों के साथ शेयर करे | हमारे अगले आर्टिकल की अपडेट पाने के लिए हमें सोशल मीडिया पर फॉलो करे | 


No comments:

Post a Comment