प्रैक्टिकल – DC Generator के भागों का अध्ययन करना |

प्रैक्टिकल – DC Generator के भागों का अध्ययन करना 

इलेक्ट्रीशियन द्वितीय वर्ष के ट्रेनी इस प्रयोग को अपनी प्रैक्टिकल फाइल में नोट कर सकते है | यह प्रैक्टिकल आपकी मेन परीक्षा में नही पूछा जाता है |यह पोस्ट आपकी प्रैक्टिकल फाइल को कम्पलीट करने में आपकी मदद कर  सकती है  |




उद्येश्य – डीसी जनरेटर के भागों का अध्ययन करना | 

परिचय – इस प्रयोग के अंतर्गत हम एक डीसी जनरेटर में कौन – कौन से भाग होते है के बारे में अध्ययन करेंगे |
आवश्यक सामग्री ,उपकरण एवं औजार –
  1. डीसी जनरेटर – 5KW 220 Volt , 01No.
  2. स्पेनर सेट – डबल एंडेड , 01No.
  3. मैलेट – 100 ग्राम , 01No.
  4. कॉम्बिनेशन प्लायर – 200 mm, 01No.
  5. कटिंग प्लायर – 150 mm , 01No.
  6. स्क्रू ड्राइवर – 150mm , 01 No.
  7. सीरीज टेस्टिंग बोर्ड – 5A 230 volt , 01No.
  8. मल्टीमीटर – डिजिटल प्रकार , 01No. 


कार्य प्रणाली – 
सर्वप्रथम डीसी जनरेटर के फ्रंट और रियर कवर को स्पेनर तथा मैलेट की सहायता से खोला गया | इसके पश्चात इसके सभी आन्तरिक भागों को बहार निकाल लिया गया | इसके पश्चात निम्न भागों के बारे में अध्ययन किया –
बाहरी भाग  योक / बॉडी , फ्रंट कवर , रियर कवर , टर्मिनल प्लेट , बेड प्लेट ,कवर गार्ड , आई बोल्ट , कपलिंग आदि |
आन्तरिक भाग – आर्मेचर , कम्यूटेटर , कार्बन ब्रश , ब्रश होल्डर , रॉकर प्लेट , फील्ड पोल , पोल वाइंडिंग , कुलिंग फेन , बियरिंग आदि |

चित्र – 

dc generator ke bhagon ka adhyayan
dc generator ke bhagon ka adhyayan 



सुरक्षात्मक सावधानियां – 
  1. कवर खोलने के लिए हेमर का उपयोग नही करना चाहिए | 
  2. कॉम्बिनेशन प्लायर से नट / बोल्ट को नही खोलना चाहिए |
  3. औजारों का गलत उपयोग नही करना चाहिए |
  4. फील्ड पोल को किसी भी टूल्स से टोकना नही चाहिए |


परिणाम – इस प्रयोग के अंतर्गत हमने डीसी जनरेटर के भागों का अध्ययन किया | 

Leave a Comment

error: Content is protected !!