DC Generator क्या है | DC जनरेटर में कौन – कौन से भाग होते है |

DC Generator In Hindi | Parts of DC Generator in Hindi | 
dc generator
dc generator
किसी भी DC मशीन या उपकरण को चलाने के लिए हमे DC प्रकार की विद्युत धारा की आवश्यकता होती है | ऐसे में हमे DC प्रकार की विद्युत उत्पन्न करने के लिए DC Generator का उपयोग करना होगा | 

इस आर्टिकल में आप जान पाएंगे की डी सी जनरेटर क्या होता है और डीसी जनरेटर में कौन – कौन से भाग होते है तथा उनका उपयोग क्या है | तो आइये जानकारी लेते हे डीसी जनरेटर के बारे में …
DC Generator क्या है
यांत्रिक शक्ति के द्वारा DC प्रकार की विद्युत उत्पन्न करने के लिए जिस मशीन का उपयोग किया जाता है उसे DC जनरेटर कहते हे | 
dc generator in hindi
dc generator in hindi

एक DC जनरेटर को जो शक्ति इनपुट के रूप में दी जाती है वह यांत्रिक (मैकेनिकल)  होती है तथा जो शक्ति DC जनरेटर से आउटपुट के रूप में प्राप्त की जाती है वह वैद्युतिक ( इलेक्ट्रिकल ) होती है |  तथा DC जनरेटर की रेटिंग KW ( किलो वाट ) में व्यक्त करते है |



डीसी जनरेटर में कौन कौन से भाग होते है | Parts of DC Generator in Hindi 

एक DC जनरेटर में निम्नलिखित भाग होते है –
1. बॉडी 
2. आर्मेचर 
3. फील्ड पोल 


1. बॉडी ( Body )  – DC Generator Body In Hindi 
 यह DC जनरेटर का आवरण होता है जो जनरेटर के सभी आंतरिक भागों की सुरक्षा करता है | बड़े जनरेटर की बॉडी कास्ट स्टील से बनी होती है तथा छोटे जनरेटर की बॉडी कास्ट आयरन से बनायीं जाती है | यह बॉडी चुम्बकीय बल रेखाओ को रास्ता प्रदान करने का काम करती है | 

2. आर्मेचर ( Armature ) – DC Generator Armature in Hindi

Dc generator armature in hindi, armature parts, armature structure, shaft , armature pole , armature winding , lap winding , wave winding
DC generator Armature in hindi


यह डीसी जनरेटर का घुमने वाला भाग होता है तथा इस भाग के द्वारा विद्युत शक्ति का उत्पादन होता है | 
आर्मेचर सिलिकॉन स्टील की लेमिनेटेड पत्तियों से बनाया जाता है तथा यह बेलनाकार आकार का होता है | इस आर्मेचर में इस आर्मेचर के निर्माण में उपयोग की जाने वाली लेमिनेटेड पत्तियों की मोटाई 0.6 mm होती है | आर्मेचर की शाफ़्ट माइल्ड स्टील की बनी होती है | जिसका उपयोग जनरेटर को यांत्रिक शक्ति प्रदान करने के लिए करते है | 


3.फिल्ड पोल (field pole ) – DC Generator Field Pole in Hindi
डीसी जनरेटर में विद्युत वाहक बल पैदा करने के लिए डीसी जनरेटर के आर्मेचर को चुम्बकीय क्षेत्र में घुमाने की आवश्यकता होती है | इसीलिए डीसी जनरेटर में चुम्बकीय क्षेत्र पैदा करने के लिए फील्ड पोल का उपयोग करते है |
छोटे व कम वोल्टेज वाले जनरेटर में तो चुम्बकीय क्षेत्र पैदा करने के लिए स्थायी चुम्बक का उपयोग किया जाता है | लेकिन बड़े डीसी जनरेटर में इस्पात से बने फील्ड पोल उपयोग में लेते है जिनके ऊपर कॉपर या एल्युमिनुम तार से निर्मित वाइंडिंग की जाती है | 

[ यह भी पढिये ]

[ इन्हें जरुर याद रखे ]
DC Generator in HIndi
01 डीसी जनरेटर की इनपुट पॉवर क्या होती है ?
Ans- यांत्रिक ( मैकेनिकल ) 

02. डीसी जनरेटर की आउटपुट शक्ति क्या होती है ?
Ans- वैद्युतिक ( इलेक्ट्रिकल )

03. डीसी जनरेटर की रेटिंग किसमे व्यक्त की जाती है ? 
Ans- KW ( किलो वाट ) 

04. छोटे डीसी जनरेटर की बॉडी किस धातु की बनायीं जाती है ?
Ans- कास्ट आयरन 

05. बड़े डीसी जनरेटर की बॉडी किस धातु की बनायीं जाती है ?
Ans- कास्ट स्टील  


तो यह थी डीसी जनरेटर और उसके भागों के बारे में कुछ सामान्य जानकारी | यदि यह आर्टिकल आपको पसंद आता है तो कृपया अपने साथियों के साथ जरुर शेयर | 


3 thoughts on “DC Generator क्या है | DC जनरेटर में कौन – कौन से भाग होते है |”

  1. 1) फिल्ड पोल कितने प्रकार के होते हें|
    2) डीसी जेनरेटर में आर्मेचर कितने प्रकार क होते हें|

    Reply

Leave a Comment

error: Content is protected !!