इमर्सन हीटर क्या हे और कैसे बनता हे | Immersion Heater In Hindi

इस पोस्ट में हम आपको बताये है इमर्सन हीटर क्या है Immersion Heater in hindi यदि आप जानना चाहते है की इमर्सन हीटर का उपयोग कहाँ किया जाता है और Immersion Heater कैसे बनता है |   

 Immersion Heater In Hindi ,  Immersion Heater kya hai

इमर्सन हीटर क्या हे | Immersion Heater In Hindi 

इमर्सन हीटर पानी गर्म करने के लिए उपयोग में आने वाला एकऐसा वैद्युतिक उपकरण जो कम समय में आवश्यकता अनुसार पानी को गर्म कर सकता है जब हम पानी से भरे पात्र के अन्दरImmersion Heater को Supply से Connect करके डालते है तो यह पानी को गर्म कर देता है।

Immersion Heater की बनावट 

इमर्सन हीटर में नाइक्रोम तार से बना पतला व क्वायलनुमा एक Heating Eliment होता है जब इस हीटिंग एलिमेंट को 220 Volt से 250 Volt की AC Supply के साथ जोडा जाता है तो यह गर्म होने लगता है ।  नाइक्रोम से बने इस Heating Eliment तार को एक पीतल की नली में डालकर तार के चारों ओर मैगनीशियम ऑक्साइड चूर्ण भर दिया जाता है । मैग्नीशियम ऑक्साइड एक अचालक चूर्ण होता है जो तार को पीतल की नली से अलग रखता है ।  यदि यह हीटिंग एलिमेंट का तार नली से टच हो जाता है तो नली में भी Current आता है इसलिए इसे नली से अलग रखा जाता है । मैग्नीशियम ऑक्साइड की चूर्ण में करंट प्रवाहित नही होता है लेकिन यह चूर्ण उष्मा को अपने अन्दर से प्रवाहित होने देता है ।  हीटिंग एलिमेंट के दोनों सिरों को एक एक मोटे तॉबे के तार से जोड देते है ।ओर पीतल की नली को किसी उपयुक्त उष्मारोधी पदार्थ से बन्द कर दिया जाता हें । जो Heating Eliment पर Copper के तार जोडे थे उन तारों को चीनी मिट्टी तथा बैकेलाइट से बने Connector से जोड कर मेन्स लीड तथा Three Pin Plug Top लगा दिया जाता है । इमर्सन रॉड के अन्दर उपयोग किए गए हीटिंग एलिमेंट की Power 1000Watt , 1500 Watt , 2500 Watt रखी जाती है ।  

Immersion Heater के उपयोग 

पानी गर्म करने के लिए Immersion Rod को पानी से भरी बाल्टी में इस प्रकार लटकाया जाता है कि उसका कनेक्टर पानी के अन्दर न डुबे अर्थात कनेक्टर पानी से बाहर रहना चाहिए । जब हम निर्धारित Supply Voltage के साथ इमर्सन रॉड को जोडतें है तो 10 से 30 मिनट के समय में एक बाल्टी पानी नहाने योग्य गर्म हों जाता है ।

Immersion Heater की मरम्मत कैसे करे 

जब भी हम इमर्सन हीटर का उपयोग करें इमर्सन हीटर को पुरी तरह पानी में डुबों दें केवल उसका कनेक्टर जल से बाहर रहना चाहिए । यदि हीटर का नली वाला भाग पानी से बाहर रह जाएगा तो हीटिंग एलिमेंट की उष्मा से नली बहुत ज्यादा लाल गर्म हो जाएगी ओर नली में हल्के हल्के छेद हो जाएगें ।   इमर्सन हीटर में मेन्स लीड तथा प्लग टॉप खराब हो जाने पर बदले जा सकते है । मेन्स लीड तथा प्लग टॉप के अलावा इमर्सन हीटर के किसी भी भाग की मरम्मत नही की जा सकती है ।

इन्हें भी पढ़िए – 

Conclusion:-तो इस आर्टिकल में आपने पढ़ा इमर्सन हीटर क्या है , Immersion Heater in Hindi | यदि यह आर्टिकल आपको पसंद आता हे तो कृपया अपने साथियों के साथ अवश्य शेयर करे |इसी प्रकार के Electrical से जुड़े आर्टिकल पढने के लिए कृपया हमारा facebook और  whatsapp Group Join करे | 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!