जानिए दोलित्र क्या है | Oscillator in hindi

ऑसीलेटर क्या है [ oscillator in hindi ] – जैसा की हम जानते है कि उच्च फ्रिक्वेंसी वाली ए0सी0 सप्लाई को डी0सी0 में बदलने के लिए रेक्टिफायर सर्किट की आवश्यकता होती है । ठीक इसी प्रकार यदि हमें डी0सी0 सप्लाई को ए0सी0 में बदलनें की आवश्यकता हो तो हम दोलित्र यानि ऑसीलेटर का उपयोग करते है ।

यदि आप जानना चाहते है की oscillator क्या है ,कैसा होता है ,कैसे कार्य करता है तथा इसका उपयोग क्यूँ और कहाँ किया जाता है तो यह आर्टिकल आपके लिए महत्वपूर्ण है | आइये जानकारी लेते है Oscillator के बारे में |  

Oscillator in hindi

कौन सा टॉपिक पढेगे उस पर क्लिक करें -

ऑसीलेटर क्या है | Oscillator in hindi

oscillator को हिंदी में दोलित्र कहा जाता है | “यह एक एसा इलेक्ट्रॉनिक सर्किट होता है जो डी.सी. प्रकार की विद्युत धारा को ए.सी. में बदलने के लिए उपयोग किया जाता है “| 

Oscillator का उपयोग क्या है

यदि आपने अपने घर में उपयोग आने वाले इन्वर्टर को ध्यान से देखा हो तो उसमे हमे देखने को मिलता है की जैसे ही मेन सप्लाई ऑफ होती है तो इन्वर्टर तुरंत ही बैटरी से डी.सी. सप्लाई लेकर उसे ए.सी. में बदलकर हमे देने लगता है | 

इन्वर्टर में भी एक oscillator सर्किट का उपयोग किया जाता है जो बैटरी की जीरो हर्ट्ज़ वाली फ्रीक्वेंसी को 50 हर्ट्ज़ की फ्रीक्वेंसी में बदलकर ac का निर्माण कर देता है |  

यह दि जाने वाली वोल्टेज को साइन , वर्गाकार , सॉ टुथ के रूप में बदलकर विद्युत तरंगे उत्पन्न करता है । एक ऑसीलेटर सर्किट एक  एम्पलीफायर तथा एक ऐसा सर्किट जो पोजिटिव फिडबैक लेकर एम्पलीफायर सर्किट को चलाता रहे शामिल होता है |

यह भी पढ़िए – 

Conclusion :- 

तो फ्रेंड्स आपने पढ़ा ऑसीलेटर क्या है | oscillator in hindi .यदि यह जनकारी आपको पसंद आती है तो कृपया निचे दिए गये शेयर बटन का उसे कर अपने साथियों के साथ भी शेयर करे | और इसी प्रकार के आर्टिकल को अपने फेसबुक में पढ़ने के लिए आज ही लाइक करे हमारा फेसबुक पेज |

Leave a Comment

error: Content is protected !!