PolyPhase System क्या है ? Polyphase के प्रकार, लाभ तथा उपयोग क्या है ?

हमारे घरों तक आने वाली बिजली जिन तारों के माध्यम से हम तक पहुँचाई जाती है | वह किसी न किसी विद्युत् सप्लाई प्रणाली का उपयोग करते हुए पहुचाते है | इस आर्टिकल में हम Polyphase System क्या है , Polyphase System का उपयोग ,लाभ तथा प्रकार क्या है के बारे में जानेंगे | 
नमस्कार और स्वागत है आपका एस.के.आर्टिकल डॉट कॉम में …..

polyphase system

कौन सा टॉपिक पढेगे उस पर क्लिक करें -

PolyPhase क्या है 

विद्युत् उत्पादन की शब्दावली में दो या दो से अधिक फेजों की संख्या को Polyphase ( बहुकला ) कहा जाता है | polyphase में उत्पन्न होने वाले फेजों की संख्या या तो दो हो सकती है या तीन | अधिकतर बिजली का उत्पादन तीन फेज में किया जाता है |

यह भी पढ़ें – अर्थिंग क्या है कितने प्रकार की होती है 

PolyPhase System क्या है 

अल्टरनेटर द्वारा पैदा होने वाली बिजली में जब या तो दो फेज पैदा किये जाये या फिर तीन फेज पैदा किये जाये तो विद्युत् उत्पादन की इस प्रणाली को polyphase system कहा जाता है | 
polyphase system में निम्न दो प्रकार की विद्युत् प्रणाली होती है –

1. दो फेज विद्युत् प्रणाली ( Two Phase Electric System ) 

इस प्रणाली में अल्टरनेटर द्वारा दो फेज की विद्युत् ( बिजली ) उत्पन्न की जाती है | जिसके लिए अल्टरनेटर में दो विन्डिंग क्वायल का उपयोग किया जाता है | यह दोनों कोइल एक – दुसरे से 90 डिग्री के वैद्युतिक एंगल पर स्थापित की जाती है |

यह कोइल अल्टरनेटर के रोटर पर स्थापित करते है तथा इससे आउटपुट प्राप्त करने के लिए रोटर की शाफ़्ट पर स्लिप रिंग लगा दी जाती है | उपयोग की जाने वाली दोनों कोइल में टर्न तथा प्रतिरोध समान मान का रखा जाता है जिससे दोनों कोइल से सामान मान का वोल्टेज प्राप्त किया जा सके | 

दोनों कोइल के एक – एक सिरे को आपस में जोड़ दिया जाता है जिससे न्यूट्रल प्राप्त किया जा सकता है | इस प्रणाली में दोनो कोइल में उत्पन्न विद्युत् वाहक बल को लाइन वोल्टेज के नाम से जानते है तथा किसी एक फेज और न्यूट्रल के बिच उत्पन्न विद्युत् वाहक बल को फेज वोल्टेज के नाम से जानते है | 

x

2 phase Electric System में EL = √2 Eph होता है | 
यानि की इस सिस्टम में लाइन वोल्टेज का मान फेज वोल्टेज का √2 गुना होता है |

2. तीन फेज विद्युत् प्रणाली ( Three Phase Electric System ) 

इस प्रकार विद्युत् प्रणाली में अल्टरनेटर द्वारा तीन फेज का उत्पादन होता है | तीन फेज के उत्पादन के लिए अल्टरनेटर में तीन कोइल विन्डिंग का उपयोग किया जाता है | प्रत्येक विन्डिंग का प्रतिरोध तथा टर्न संख्या बराबर रखी जाती है | और प्रत्येक विन्डिंग आपस में एक – दुसरे से 120 डिग्री के वैद्युतिक कोण पर स्थापित की जाती है |

प्रत्येक कोइल के दुसरे – दुसरे सिरों को आपस में कॉमन कर दिया जाता है | कॉमन किये गये बिंदु पर हमे न्यूट्रल प्राप्त होता है | यह तीनो कोइल अल्टरनेटर के रोटर में भी 120 डिग्री वैद्युतिक कोण पर स्थापित की जाती है ताकि उत्पन्न होने वाली फ्रीक्वेंसी और वोल्टेज का मान समान रहें |  

उत्पन्न होने वाले तीनो फेजों को क्रमशः RYB के नाम से जाना जाता है  | और प्रत्येक फेज के मध्य भी 120 डिग्री का फेज कोण होता है | इस प्रणाली में किसी एक फेज और न्यूट्रल का उपयोग करके सिंगल फेज की सप्लाई प्राप्त की जा सकती है | 

3 फेज इलेक्ट्रिक सिस्टम में EL = √3 Eph होता है | 
यानि की 3 फेज इलेक्ट्रिक सिस्टम में लाइन वोल्टेज का मान फेज वोल्टेज का √3 गुना होता है |

PolyPhase System Terminology 

जब polyphase system पर काम करना होतो तो निम्न शब्दों तथा उनके उपयोग के बारे में पता होना चाहिए –

1. Phase Voltage – polyphase में किसी एक फेज और न्यूट्रल के बिच मापी गयी वोल्टेज फेज वोल्टेज कहलाती है | 

2. Line Voltage – polyphase के किन्ही दो फेजों के क्रोस मापी गयी वोल्टेज लाइन वोल्टेज कहलाती है | 

3. Phase Current – जब किसी एक में से प्रवाहित होने वाली करंट को मापा जाता है तो उसे फेज करंट के नाम से जाना जाता है |

4. Line Current – किसी polyphase सर्किट में दो फेज में प्रवाहित होने वाली धारा को लाइन करंट कहा जाता है |

5. phase power – जब एक फेज और न्यूट्रल के बिच पॉवर खपत को मापा जाता है तो उसे फेज पॉवर कहते है | 

6. Total Power – polyphase सप्लाई के सभी फेज के बिच मापी गयी विद्युत् शक्ति की खपत टोटल पॉवर कहलाती है | 

Poly Phase System के लाभ 

  • polyphase के अल्टरनेटर की आउटपुट सिंगल फेज के अल्टरनेटर से अधिक होती है |
  • थ्री फेज मोटरों को सेल्फ स्टार्ट होती है क्यूंकि थ्री फेज सप्लाई में घुमावदार चुम्बकीय क्षेत्र उत्पन्न होता है | 
  • थ्री फेज लाइन के ट्रांसमिशन में सिंगल फेज की अपेक्षा पतले तारों का उपयोग किया जाता है |

यह भी पढिये –

यह भी पढिये –


इस आर्टिकल में आपने पढ़ा polyphase System के बारे में तथा जानकारी प्राप्त की poly Phase क्या है | यदि यह आर्टिकल पसंद आता है तो कृपया अपने सथियों के साथ जरुर शेयर करे | और हमारे नये अपडेट की जानकारी प्राप्त करने के लिए हमें सोशल मीडिया पर फॉलो करें | 

Polyphase System IMP Questions Answers

प्रश्न 1. पॉली फेज सिस्टम किसे कहते है?

उत्तर-: विद्युत उत्पादन में दो या दो से अधिक फेजों की संख्या को पॉली फेज सिस्टम कहते हैं।

प्रश्न 2. पॉली फेस सिस्टम का उपयोग कहा पर किया जाता है?

उत्तर-: अधिकतर विद्युत उत्पादन तीन फेज में किया जाता है।

प्रश्न 3. अल्टरनेटर के द्वारा दो या तीन फेज पैदा किये जाये तो इस सिस्टम को क्या कहते हैं?

उत्तर-: इस प्रकार के सिस्टम को पॉली फेज सिस्टम कहते हैं।

प्रश्न 4. पॉली फेज सिस्टम कितने प्रकार के होते हैं?

उत्तर-: पॉली फेज प्रणाली दो प्रकार की होती हैं।

प्रश्न 5. पॉली फेज प्रणाली कौन कौन सी है?

उत्तर-: 1. दो फेज विद्युत प्रणाली 2. तीन फेज विद्युत प्रणाली।

प्रश्न 6. दो फेज प्रणाली क्या है?

उत्तर-: इस प्रणाली में अल्टर्नेटर के द्वारा दो फेज विद्युत उत्पादन की जाती है।

प्रश्न 7. दो फेज प्रणाली में अल्टर्नेटर की वाईन्डिंग में कितनी क्वायल का उपयोग किया जाता है?

उत्तर-: अलरनेटर की वाईन्डिंग में दो क्वायल वाईन्डिंग का उपयोग किया जाता है।

प्रश्न 8. दो फेज प्रणाली में क्वायल एक दूसरे से कितने डिग्री एंगल पर स्थापित की जाती है?

उत्तर-: दोनों क्वायल एक दूसरे से 90° के वेद्युतिक एंगल पर स्थापित की जाती हैं।

प्रश्न 9. तीन फेज प्रणाली में अल्टर्नेटर की वाईन्डिंग में कितनी क्वायल का उपयोग किया जाता है?

उत्तर-: अलरनेटर की वाईन्डिंग में तीन क्वायल वाईन्डिंग का उपयोग किया जाता है।

प्रश्न 10. तीन फेज प्रणाली में क्वायल की वाईन्डिंग एक दूसरे से कितने डिग्री एंगल पर स्थापित की जाती है?

उत्तर-: दोनों क्वायल की वाईन्डिंग एक दूसरे से 120° के वेद्युतिक एंगल पर स्थापित की जाती हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!